Monthly Archives: जून 2009

अपने देश-कौम धर्मसंस्कृति से गद्दारी बौद्धिक गुलाम हिन्दूओं की रग-रग में है

ये खुद को सैकुलर कहलबाने बाले बौद्धिक-गुलाम हिन्दू बो गुलाम स्वार्थी गद्दार हैं जो हिन्दुओं व हिन्दु धर्म की रक्षा के लिए अपने साथ-साथ अपने माता-पिता व अपने चार-चार बच्चों का बलिदान देने बाले महात्यागी क्रांतिकारी योद्धा गुरू गोबिन्द सिंह जी का साथ देने के बजाय जिहादी मुसलिम राक्षसों का साथ देकर हिन्दुओं को मरबाते रहे व हिन्दु औरतों की इज्जत आबरू के साथ खिलबाड़ करबाते रहे । ये बौद्धिक गुलाम हिन्दु आज भी अपनी नसों में बह रहे गंदे खून से मुक्ति पाने के बजाए अपने कुकर्मों द्वारा इस गंदे खून को और जहरीला बना रहे हैं।
जागो स्वाभिमानी हिन्दु और पहचानों इन गद्दारों को व बहा दो इस गंदे खून की नदियां बरना बहुत देर हो जायेगी ।
Advertisements
%d bloggers like this: