Monthly Archives: सितम्बर 2009

वाइ एस राज सेखर रेडी की मौत पर कांग्रेसियों व इसाई मिसनरीयों की संयुक्त नौटंकी ।

·        मेरे प्यारे हिन्दू भाइयो हमने अपनी पुस्तक नकली धर्मनिरपेक्षता में आपको मुसलिम आतंकवादियों,इसाईत के दलालों व गद्दार मिडीया के हिन्दूविरोधी-

देसविरोधी खतरों के बारे में जागरूक करने का निष्पक्ष प्रयास किया । उसी कड़ी में एक और प्रमाण हमारे हाथ लगा है।

·         हमने आपको बताया था कि किस तरह से एंटोनियो माइनो मारियो उर्फ सोनिया गांधी ने नाम बदल कर भेष बदल कर देश की हिन्दू जनता को

मूर्ख बनाया। इस विदेशी ने कांग्रेस पर अपनी पकड़ मजबूत बनाने के लिए चुन-चुन कर जनाधार बाले हिन्दू नेताओं को ठिकाने लगाकर इसाइयों को आगे

बढ़ाया । इसी के परिणामस्वरूप 90 प्रतिसत हिन्दू जनसंख्या बाले राज्य आंध्रप्रदेश में एक इसाइ वाइ एस रेडी को मुख्यामंत्री बनाया गया। जब ये बात

मैंने अपनी पुस्तक में लिखी तो 90 प्रतिसत हिन्दूओं ने हमें ये समझाने का प्रयास किया कि रेडी ईसाई नहीं है । हिन्दु के अज्ञान को देखकर आपको

समझ आ जाना चाहिए कि भारत बार-बार गुलाम क्यों होता है। जिस दिन रेडी के गुम होने का समाचार आया हमने बड़ी राहत की सांस ली कि एक

राज्य इसाइयों से आजाद हो गया ।  लेकिन मौत का समाचार आने के बाद ये देख कर बहुत दुख हुआ कि इसाई दलालों के हाथों बिके हुए हिन्दू नेता भी

एक इसाई को फिर मुख्यामंत्री बनाने के लिए इसाइ मिसनरियों का साथ दे रहे थे व रेडी की मौत के सदमें में लोगो के मरने का भूठा समाचार फैला रहे

थे व रेडी का बेटा इन झूठे समाचारों को सच साबित करने के लिए लोगों से न मरने की अपील करने की नौटंकी कर रहा था।  

·        इसाइयों का जाल कितना फैल चुका है यह इसी बात से साबित हो जाता है कि देश में रेडी की मौत पर लगभग हर अखबार से लेकर समाचार चैनल

तक इसाइ दलालों से पैसे खाकर इस नौटंकी का प्रचार-प्रसार करने में एड़ी-चोटी का जोर तगाए हुए थे। ये तो भला हो लाला जी द्वारा अपने देसभक्तलहू से

स्थापित पंजाबकेसरी का जिसने दलाली व चापलूसी के इस दौर मैं भी 17-09-09 के अंक मे इस सच्चाई को उजागर करने का साहस दिखाया ।  हमें तो

इस बात की पहले से ही जानकारी थी पर हमारी सच्ची-पक्की बात पर भरोसा करता कौन है ।

·        सायद आप सोच रहे होंगे कि क्योंकि रेडी ईसाई था इसलिए हम उसका विरोध कर रहे हैं हमारा विरोध रेडी की पूजा पद्दती से न होकर उसके फूट

 

डालो राज करो की नितियों से था ,है और रहेगा। ये वही ब्यक्ति था जिसने संविधान और माननीय सर्बोच न्यायालय के विरूद्ध जाकर धर्म के आधार पर

आरक्षण की 1947 से पहले की निति का भारत विभाजन के बाद पहली बार अंगीकार कर मुसलमानो को आरक्षण दिया। मुसलिम आतंकवादियों को

छोड़कर उनका हौसला बछडाने के लिए एक-एक आटो रिक्सा दिया ताकि नये-नये मुसलिम जिहादी इन आतंकवादियों से प्रेरणा पाकर हिन्दूओं का लहू

बहाते रहें…

·        जागो हिन्दू जागो   घर में आग लगने पर कुआं खोदने पर क्या फायदा !

 

 

 

Advertisements

इसरतजहां के मामले ने एंटोनियो माइनो मारियो की गुलाम कांग्रेस की गद्दारी को एकबार फिर उजागर कर दिया

पिछले कुछ दिनों से कांग्रेस जिस तरह मैजिसट्रेट की मनघड़ंत रिपोर्ट के सहारे मुसलिम जिहादी आतंकवादियों के बचाब के लिए संघर्षरत है इससे एकबार फिर कांग्रेस का हिन्दूविरोधी-देशविरोधी चरित्र जगजाहिर हो गया है। कौन नहीं जानता कि मुसलिम जिहादी आतंकवादी इसरतजहां के मरने पर महांराष्ट्र की कांग्रेस सरकार ने लाखों रुपये का पैकेज इसरतजहां के परिबार को दिया था व लाखों कांग्रेसियों व समाजवादियों ने इस मुसलिम जिहादी आतंकवादी के जनाजे में हिस्सा लिया था । जो गद्दार कांग्रेसी इसरतजहां को निर्दोष बता रहे हैं व गुजरात सरकार को आदमखोर उन सैतान की औलादों को यह जानकारी होनी चाहिए कि खुद केन्द्र सरकार व महांराष्ट्र ए टी एस ये सवीकार कर चुकी है कि इसरतजहां व उसके साथी आतंकवादी थे। जिस तरह से सचाइ सामने लाने बाले कानून विभाग के अधिकारी को हटाया गया है उससे तो यही सिद्ध होता है कि बरतमान सरकार गद्दारों की सरकार है व गद्दारों को बचाने के लिए किसी भी हद तक गिर सकती है।यही अपनी पुसतक नकली धर्मनिरपेक्षता का भी सार है। जागो मेरे प्यारे हिन्दूओ जागो और महाराष्ट्र से गद्दारों की हिन्दुविरोधी-देशविरोधी सरकार को उखाड़ फैंको।

%d bloggers like this: