क्या आयोध्या में मर्यादापुर्षोत्तम भगवान श्री राम के मन्दिर का नवीनीकरण सम्पूर्ण क्रांति के वाद ही होगा….?

 

क्या आयोध्या में मर्यादापुर्षोत्तम भगवान श्री राम के मन्दिर का नवीनीकरण सम्पूर्ण क्रांति के वाद ही होगा….?

 

अयोध्या मर्यादापुर्षोत्तम भगवान श्रीराम की जन्मभूमि है यह एक शाशवत सत्य है इस सत्य को कोइ भी नकार नहीं सकता न ही कोइ इस सत्य को बदल सकता है फिर भी भारत में कांग्रेस के नेतृत्व में एक हिन्दूविरोधी-देशविरोधी सेकुलर गिरोह लगातार इस सत्य को असत्य में वदलने का अथाह प्रयत्न कर रहा है। शायद ये सेकुलर गिरोह इस तथ्य से अपरिचित है कि सत्यमेव जायते अर्थात विजय हमेशा सत्य की ही होती है।

ये सेकुलर गिरोह कहता है कि अयोध्या में जिस स्थान पर भगमान राम का जन्म हुआ उस स्थान पर बाबरी मस्जिद थी अर्थात बाबर द्वारा बनाइ गई मस्जिद। अब इन हिन्दुविरोधियों से भला कोई पूछे कि ये बाबर कौन था क्या ये बाबर इन हिन्दूविरोधियों का कोई प्रिय नेता-सासक-दारसनिक था या फिर एक विदेशी अक्रांता। इन हिन्दूविरोधियों को भी ये वात अच्छी तरह मालूम है कि बाबर एक विदेशी अक्रांता था जिसने न केबल असंख्या  मन्दिर गिराए बल्कि असंख्या हिन्दूओं को भी इस विदेशी अक्रांता ने मौत के घाट उतारा ।

इसी विदेशी अक्रांता ने 1528 में अपने सेनापति को अयोध्या में मर्यादा पुर्षोत्तम भगवान श्रीराम जी के मन्दिर को गिरवाकर उसकी जगह मस्जिद वनवाने का आदेश दिया जिसके मरिणामस्वारूप मन्दिर को बदलकर मस्जिद जैसा बना दिया गया जिसे बाबरी मस्जिद कहा गया इस तथ्य के समर्थन में न केवल मुस्लिमों ने लिखा है वल्कि एक अंग्रेज बकील ने भी 1885 में इस बात पर आस्चर्य बयक्त किया था कि हिन्दूओं की भूमि पर एक मन्दिर की जगह मस्जिद कैसे बनाइ जा सकती है । वर्ष 2003 में भारतीय पुरातत्व विभाग द्वारा की गइ खुदाइ में भी इस स्थान पर मन्दिर होने के प्रमाण मिले हैं। 1934 से आज तक इस स्थान पर कभी नमाज नहीं पढ़ी गई ।

अब प्रश्न पैदा होता है ये सैकुलर गिरोह इस स्थान पर मन्दिर बनाने का विरोध क्यों करता है ।कारण सपष्ट है ये वो सैकुलर गिरोह है जिसने 1947 में भारत का धर्म के आधार पर विभाजन करवाकर विभाजन की मांग करने वाले गद्दारों के वंसजों को भारत में रखकर हिन्दूओं को लहूलुहान करते रहने का षडयन्त्र रचा। इस सेकुलर गिरोह ने इन जिहादी गद्दारों के दबाब में देश की एकता के प्राण वन्देमातरम् का भी विभजन कर दिया ।इस सेकुलर गिरोह ने 1955 में हिन्दु-धर्म के विभिन्न प्रावधानों को बदलना शुरू किया लेकिन देश से गद्दारी करवाने वाले आतंकवादियों के जन्मदाता इस्लाम को छुआ तक नहीं । आतंकवाद की जड़ व हिन्दुओं को लहुलुहान करने की प्रेरणा देने वाली कुरान और हदीश को आज तक हाथ नहीं लगाया। जबकि शांति और भाइचारे की प्रेरणा देने वाली रामायाण और मर्यादापुर्षोत्तम भगवान श्रीराम को इस सेकुलर गिरोह ने काल्पनिक घोषित करने का दुस्साहस किया। यह वही सेकुलर गिरोह है जो हिन्दुओं का खून बहाने बालों का प्रेऱणास्त्रोत बन चुके मुहमम्द अफजल को माननीय सर्वोचन्यायालय द्वारा 19-09-2006 को फांसी की सजा तय करने के बाद भी आज तक इस गद्दार का बचाब कर रहा है जबकि हिन्दुओं पर अत्याचार के विरूद्ध अबाज उठाने वाली साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर व आतंकवादियों के विरूद्ध लड़ने वाले लैफ्टानैंट कर्नल पुरोहित के उपर झूठे आरोप लगाकर उन पर मकोका लगाकर उन्हें गैरकानूनी रूप से फांसी चड़ाने के षडयन्त्र रच रहा है। इस सैकुलर गिरोह के हिन्दुविरोधी-देशविरोधी षडयन्त्रों का परदाफास उस वक्त होता है जब माननीय न्यायालय ने इन क्रांतिकारियों पर से मकोका ये कहते हुए हटा दिया कि इन क्रांतिकारियों ने एसा कोइ अपराध नहीं किया है कि इनपर मकोका लगाया जाए। आपको हैरानी होगी कि इस सेकुलर गिरोह ने साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर पर यह आरोप सगाया है कि इस साध्वी ने सिमी के आतंकवादियों को मौत के घाट उतारा अब आप ही सोचो कि साध्वी को इनाम मिलना चाहिए या उसे जेल मे डालना चाहिए। इनाम तो तब मिलता जब देश में कोइ देशभक्त सरकार होती ।

जब देश में एक विदेसी इसाइ मिसनरी एंटोनियो माइनो मारियो उर्फ सोनिया गांधी की हिन्दुविरोधी-देशविरोधी सरकार है तो देशभक्तों पर अत्याचारों के सिवा हो भी क्या सकता है। आज गुलाम कांग्रेसी इस इसाइ मिसनरी का जन्मदिन मना रहे हैं हो सकता है ये बैद्धिक गुलाम कांग्रेसी कल को एंटोनियो माइनो मारियो के परिबारिक मित्र क्वात्रोची का भी जन्म दिन मनायें। हम उसी क्वात्रोची की बात कर रहे हैं जिस क्वात्रोची को वोफोर्स दलालीकांड से बचाने के लिए इस एंटोनियों की गुलाम सरकार ने इस एंटोनियो के कहने पर पूरी वेशर्मी से हर तरह का सफल प्रयत्न किया। यह वही एंटोनियो-क्वात्रोची की सफल जोड़ी है जिसने राजीव जी जैसे भोले-भाले इनसान को ब्यर्थ में बदनाम किया। अब आप समझ सकते हैं कि भारत आज किस दौर से गुजर रहा है और क्यों स्वामी रामदेव जी कह रहे हैं कि आज भारत को एक और स्वतन्त्रता संग्राम की जरूरत है।

जागो मेरे प्यारे बैद्धिक-गुलाम हिन्दुओ और जुड़ जाओ राष्ट्रीय स्वंय सेबक संघ/भारत स्वाभिमान मंच/हिन्दु जागृति समिति/सनातन संस्था/बजरंग दल/सेवा भारती/ के साथ और उतार दो हर वो कर्ज जो हर क्रांतिकारी का हर उस हिन्दूस्तानी पर शेष है जिसकी रगों मैं ऋषियों-मुनियों का पवित्र खून दौड़ रहा है वहा दो हर उस गद्दार का खून जो औरंगजेब-बाबर जैसे जिहादियों के प्रति बफादार है। बर्ना वो वक्त दूर नहीं जब अफगानीस्तान-पाकिस्तान-बंगलादेश-कशमीर की तरह भारत के इस हिस्से को भी हिन्दुविहीन कर दिया जाए !

जागो भाइ जागो और जगाओ बौद्धिक-गुलाम व सुप्त हिन्दुओं को

 जागो ! हिन्दू जागो !

  अफगानिस्तान पाकिस्तान बांगलादेश सब हिन्दुविहीन हो गए।

          अब कश्मीर आसाम को हिन्दुविहीन घोषित करने की तैयारी है।।

आज जिहादी हमलों में वो घरबार परिवार सहित मारे गए।।।

          कल हमारी फिर हमारे बच्चों को मारने की तैयारी है।।।।

 

 

Advertisements

One Comment

  1. Vivek
    Posted दिसम्बर 18, 2009 at 7:19 अपराह्न | Permalink | प्रतिक्रिया

    sunil ji kya lekhani hai aapki. itne acche tark aur vidvtapoorn tippaniyan aap kaise karte hain. mujhe garv hai aap per. aapki lekhni kisi bhi nindra mein leen hindu ko jhakjhor sakti hai. lekin shreemaan aapka itna sunder blog mujhe nahin lagta ki public tak pahunchta hai. is blog ko lokpriya banane ke lie kya karna chaahiye taaki is ka adhik se adhik prachar ho sake aur aapki nirbheek, desh-dharmbhakti se poorna ojaswi lekhani hindu bhaaieon ko jagaane mein sahayak ho.

आपके कुछ न कहने का मतलब है आप हमसे सहमत हैं

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s

%d bloggers like this: