इन्द्रेश ही क्यों हिन्दू क्रांतिकारियों के सबन्ध तो डा. अबदुल कलाम से भी थे?

डा. अबदुल कलाम भारत के राष्ट्रभक्त क्रांतिकारियों के कितने नजदीक थे इसका प्रमाण तो ये फोटो है।

फोटो में डा. अबदुल कलाम हिन्दू क्रांतिकारी दयानन्द पांडे जी के साथ देश के दुशमनों को समाप्त करने पर गहन विचार विमर्श कर रहे हैं। इन देश के दुशमनों में वांमपंथी आतंकवादियों, मुसलिम आतंकवादियों व धर्मांतरण के ठेकेदारों के साथ-साथ सेकुलर गद्दार भी सामिल हैं ।
रही बात इन्द्रेश जी के हिन्दू क्रांतिकारियों के साथ सबन्धों की तो आज देश का हर वो नागरिक जो भारत माता को अपनी मां मानता है इन क्रांतिकतारियों के साथ है क्योंकि अब वक्त आ गया है कि हिन्दूविरोधी-देशविरोधी धर्मनिर्पेक्ष गिरोह को उसी की भाषा में जबाब दिया जाए।

ये विलकुल सत्य है कि इन्द्रेश जी RSS के पदा अधिकारी हैं ठीक उसी तरह जिस तरह डा. अबदुल कलाम जी इन क्रांतिकारियों से मुलाकात के वक्त देश के राष्टपति थे ।जब देश का प्रथम नागरिक ही इन क्रांतिकतारियों का समर्थक था तो फिर वाकी जनता भला क्यों इन हिन्दू क्रांतिकारियों का समर्थन नहीं करेगी?
रही कार्यवाही की बात तो सच्चाई यह है कि 7-8वीं सताब्दी में मुसलिम आतंकवादियों के भारत पर आक्रमण से लेकर अंग्रजों के आक्रमण के दौरान व बाद में काले अंग्रेजों के सासनकाल में भी देशभक्त हिन्दूओं को सताया जाता रहा।
धर्मनिर्पेक्ष गिरोह के सहयोग से हिन्दूबहुल क्षेत्रों व मन्दिरों पर लगातार हमले होते रहे। लेकिन आज तक इन धर्मनिर्पेक्ष गद्दारों व इनके पाले हुए भारतविरोधी आतंकवादियों के विरूद्ध आज तक कोई सीधी कार्यवाही नहीं की गई उल्टा इनको पांच-पांच लाख रूपए इनाम देकर सैनिकों व देशभक्तों पर हमलों के लिए उकसाया जाता रहा।
अब वक्त आ गया है कि इन भारतविरोधी आतंकवादियों के विरूद्ध सीधी कार्यवाही कर भारत को इन भारत विरोधी धर्मनिर्पेक्ष आतंकवादियों से मुक्त करवाया जाए।आओ मिलकर आगे बढ़ें।
ओउम

Advertisements

One Comment

  1. Posted अक्टूबर 25, 2010 at 9:45 अपराह्न | Permalink | प्रतिक्रिया

    कांग्रेश आतंक बादियो और अलगाव बादियो को बचाने के लिए संघ के खिलाफ अनर्लग प्रलाप, ऐ.टी.एस.और सी,बी.आइ क़ा दुरपयोग कर रही है देश भक्तो पर आरोप- प्रत्यारोप लगा आतंक बादियो को प्रोत्साहित कर सुरक्षित कर रही है.

आपके कुछ न कहने का मतलब है आप हमसे सहमत हैं

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s

%d bloggers like this: