जो सच में देश के लिए मर मिटने का जजबा रखते हैं वो आज जेलों का रूख कर चुके हैं।

सच कहें तो अब लिखने का विलकुल मन नहीं करता ।

हम लिखते थे गद्दार भारतविरोधी धर्मनिर्पेक्ष

आतंकवादियों की असलियत अपने सुप्त बौद्दिक गुलाम

देशवासियों खासकर हिन्दूओं के सामने रखकर

उन्हें जागृत करने के लिए। लेकिन आज हालात ये हैं

कि electronic व print media आए दिन कभी दवी तो

कभी खुली जुवान में देशवासियों को

धर्मनिरपेक्षतावादियों की काली करतूतों चाहे वो

भ्रष्टाचार के रूप में हों या फिर भारतविरोधी

आतंकवादियों का समर्थन कर देश की सभ्यता और

संसकृति को नष्ट करने के षडयन्त्र के रूप में हों, का खूब

प्रचार कर रहा है।

उधर जो सच में देश के लिए मर मिटने का जजबा रखते

हैं वो आज जेलों का रूख कर चुके हैं। चाहे वो साध्वी

प्रज्ञा सिंह ठाकुर जी हों या फिर लैफ्टीनैंट कर्नल पुरोहित

जी या फिर दाय नन्द पांडे जी या फिर शवरी माता

कुम्भ के माध्यम से एक साथ 300 गांव को वापिस

भारतीय संसकृति और सभ्यता के प्रति लाने वाले

परम्पूजनीय सवामी आसीमानन्द जी हों और तो और

अब तो युगपुरूष स्वामी रामदेब जी व आचार्य बालकृष्ण

जी भी, गद्दार धर्मनिर्पेक्षतावादियों की लूट के विरूद्ध मुंह

खोलकर खासकर इन सब गद्दारों की मां इटालियन

एडवीज एंटोनिया अलवीना माइनो उर्फ सोनिया

गांधी के 840000 करोंड़ रूपए के काले धन के विरूद्ध

जुवानखोलकर अब जेल की ओर रूख करते हुए लगते हैं।

CAG में काम कर रहे देशभक्त क्रांतिकारियों ने इस

धर्मनिरपेक्ष गिरोह की लूट के हर किस्से को देश के

सामने रखा है कम से कम दो अधिकारियों ने तो चोरों

और गद्दारों की सरदार इटालियन एडवीज एंटोनिया

अलवीना माइनो उर्फ सोनिया गांधी द्वारा लुटे व लुटाए

जा रहे देश के धन पर प्रश्न उठाकर अपने पद तक गंवा

दिए।

माननीय सर्वोच न्यायालय ने धर्मनिरपेक्ष गिरोह की

सरकार द्वारा किए जा रहे देशविरोधी कार्यों के वि्रूद्ध हर

हाल में आबाज उठाई और इतनी बुलंद आबाज उठाई कि

कोई बैहरा भी सुन ले।

RSS ने भारतविरोधी धर्मनिर्पेक्ष गिरोह द्वारा देश से की

जा रही गद्दारी के विरूद्ध आबाज उठाई तो RSS

आतंकवादी

स्वामी रामदेव जी व आचार्य वालकृष्ण जी ने धर्मनिर्पेक्ष

गिरोह की चोर बजारी के विरूद्ध आबाज उठाई तो

स्वामीराम देव जी आतंकवादी

CAG ने कांग्रेस द्वारा मचाई गई लूट जनता के सामने

रखी तो CAG गैरकानूनी और झूठा

माननीय न्यायालय ने कांग्रेस द्वारा किए जा रहे गैर

कानूनी कुकर्मों पर चाबुक चलाया तो माननीय

न्यायालय का काम गैर कानूनी

अन्ना जी ने भ्रष्टाचार के विरूद्ध आबाज उठाई तो वह भी

आतंकवादी

अब आप सोचो कि जिस चोरों और गद्दारों की सरकार पर

इस सब का कोई असर नहीं भला उस पर हमारे लिखने

का क्या असर होगा?

Advertisements

आपके कुछ न कहने का मतलब है आप हमसे सहमत हैं

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s

%d bloggers like this: